अटल पेंशन योजना

अटल पेंशन योजना के तहत असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले उन सभी नागरिकों पर जोर होगा जो पेंशन कोष नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा संचालित राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (एनपीएस) में शामिल हैं  वे जो किसी सांविधिक सामाजिक सुरक्षा योजना से नहीं जुड़े हैं.’

अटल पेंशन योजना के तहत अंशधारकों को 60 साल पूरा होने पर 1,000 रुपये से लेकर 5,000 रुपये तक पेंशन मिलेगी जो उनके योगदान पर निर्भर करेगा. योगदान इस बात पर निर्भर करेगा कि संबंधित व्यक्ति किस उम्र में योजना से जुड़ता है |

अटल पेंशन योजना के लिये न्यूनतम उम्र 18 साल तथा अधिकतम उम्र 40 साल है. इसमें अंशधारक के लिये योगदान की अधिकतम अवधि 20 वर्ष है. सरकार की ओर से निश्चित पेंशन लाभ की गारंटी होगी.

सरकार इस पेंशन योजना में भागीदारी करने वाले अंश धारकों की तरफ से वार्षिक प्रीमियम का 50 प्रतिशत या फिर 1,000 रुपये का योगदान करेगी. इनमें जो भी कम होगा वह राशि सरकार देगी. सरकार की तरफ से यह योगदान पांच साल तक किया जाएगा |

अटल पेंशन योजना से जुड़ी मुख्य बातें :-

  1. 18 वर्ष से 40 वर्ष तक का कोई भी व्यक्ति इस योजना से जुड़ सकता है|.
  2. अगर आप इस योजना से जुड़ते हैं, तो जब आपकी आयु 60+ वर्ष हो जाएगी, तो आपको मासिक पेंशन मिलना शुरू हो जाएगा.
  3. अटल पेंशन योजना से जुड़ने के लिए आपके पास आधार कार्ड होना जरूरी है. लेकिन अगर आपके पास अभी आधार कार्ड नहीं है, तो आप योजना से जुड़ने के एक निश्चित समय सीमा के भीतर अपना आधार नम्बर बैंक को दे सकते हैं.
  4. 60 वर्ष तक आपको इस योजना में पैसा जमा करना होगा, और 60 वर्ष के बाद आपको मासिक पेंशन मिलना शुरू हो जायेगा.
  5. वैसे लोग जो Income Tax देते हैं, जिनके पास सरकारी नौकरी है या फिर जो EPF, EPS जैसी योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं, वे लोग अटल पेंशन योजना से नहीं जुड़ सकते हैं.
  6. भारत सरकार की एक पुरानी स्कीम “स्वावलंबन योजना” में खाता खुलवा चुके लोगों को खुद-ब-खुद अटल पेंशन योजना से जोड़ दिया जाएगा.
  7. अटल पेंशन योजना में Monthly Premium जमा करना बहुत आसान है. आपके बैंक खाते में पैसा होना चाहिए, Premium की राशि तय Date पर खुद आपके बैंक खाते से अटल पेंशन योजना में चली जाती है. इस कारण आपको इस योजना से एक बार जुड़ने के बाद Monthly Premium जमा करने बार-बार बैंक नहीं जाना पड़ता है.
  8. अगर आप 31 December 2015 तक अटल पेंशन योजना से जुड़ते हैं, तो 2020 तक आप जितना पैसा इस स्कीम में लगाते हैं, सरकार 2020 तक में आपकी जमा की गई राशि का 50 % या 1000 रूपए प्रति वर्ष (दोनों में से जो कम रहेगा) उतने रुपए अपनी ओर से आपके पेंशन योजना में लगाएगी.
  9. इस योजना में पेंशन की 5 राशियाँ उपलब्ध है. 1000, 2000, 3000, 4000, और 5000. आपको यह चुनना होगा कि आप 60 वर्ष के बाद कितनी मासिक पेंशन पाना चाहते हैं. उदाहरण : अगर आपकी आयु 18 वर्ष है और आप 60 वर्ष के बाद 1000 मासिक पेंशन पाना चाहते हैं, तो आपको 42 रुपए हर महीने जमा करना होगा, उसी तरह आपकी आयु 18 वर्ष है और आप 60 वर्ष के बाद 5000 मासिक पेंशन पाना चाहते हैं, तो आपको 210 रुपए हर महीने जमा करना होगा. इस तरह आयु और पेंशन की राशि के हिसाब से अगल-अलग लोगों को अलग-अलग Monthly Premium देना होगा.

अटल पेंशन योजना में Late Fee :-

  1. अगर आपका Monthly Premium 100 रुपये के तक है, तो Late Fee 1 रूपये प्रति महीना लगेगा.
  2. अगर आपका Monthly Premium 500 रुपये के तक है, तो Late Fee 2 रूपये प्रति महीना लगेगा.
  3. अगर आपका Monthly Premium 1000 रुपये के तक है, तो Late Fee 5 रूपये प्रति महीना लगेगा.
  4. अगर आपका Monthly Premium 1000 रुपये से अधिक है, तो Late Fee 10 रूपये प्रति महीना लगेगा.

खास नियम और शर्तें :-

  1. अगर 6 महीने तक Account में पैसा नहीं डाला जाता है, तो Account फ्रिज़ कर दिया जायेगा.
  2. अगर 1 साल तक Account में पैसा नहीं डाला जाता है, तो Account Deactivate कर दिया जायेगा.
  3. अगर 2 साल तक Account में पैसा नहीं डाला जाता है, तो Account बंद कर दिया जायेगा.तो अभी से बचाइए अपने पैसे और बुढ़ापे में पाइए
  4. पेंशन का सहारा. यह लेख महज एक जानकारी है, पेंशन योजना से जुड़ने से पहले सारी बातें Bank से Confirm कर लें कि वर्तमान में इस योजना की नियम और शर्तें क्या है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.