किसान सम्मान निधि योजना

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की घोषणा पीएम मोदी सरकार द्वारा अंतरिम बजट के दौरान किया गया था। इस लाभकारी योजना के तहत देश के छोटे किसानों को सीधे उनके बैंक खाते में हर साल 6000 रुपए की सहायता राशि दी जाएगी।

पहले प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के द्वारा छोटे एवं सीमांत किसान परिवार, जिनके पास 2 हेक्टेयर या उससे कम जमीन है तो उन्हें 6000 रुपए प्रति वर्ष दर से सहायता दिए जाने का फैसला लिया था लेकिन अब इसमें सभी किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा। किसान सम्मान निधि योजना से देश के लगभग 14.5 करोड़ किसानों को इसका लाभ मिलेगा।

किसानों को तीन किस्तों में हर साल 6000 रुपए दिए जाएंगे। केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए 75,000 करोड़ रुपए आवंटित किया गया है। यह योजना किसानो के कृषि आय को वर्ष २०२२ तक दोगुना करने की उम्मीद के साथ शुरू की गई है।

योजना के मुख्य बिंदु :-

  1. इस योजना की शुरुआत 24 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले से की थी। इस योजना में 100% खर्च केंद्र सरकार करेगी।
  2. योजना की पहली क़िस्त 2000/- रुपए दिनांक 24 फरवरी 2019 को किसानो के बैंक अकाउंट में भेजी गई थी, दूसरी किस्त मार्च में भेजी गयी थी। प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना की तीसरी किस्त 1 अगस्त 2019 से किसानों को ट्रांसफर की जा रही है यह इस साल की अंतिम किस्त है।
  3. अब तक करीब 6 करोड़ 15 लाख किसानों के बैंक अकाउंट में पहली तथा दूसरी किस्त के 2-2 हजार रुपए ट्रांसफर किये जा चुके है।
    इस योजना के तहत जरूरतमंद छोटे तथा सीमांत किसानों को वित्तीय सहायता दी जाएगी। जिसका उपयोग वे फसल उत्पादन को बढ़ाने के लिए कर सकते हैं। इस योजना का लक्ष्य किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करने की है।
  4. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ प्राप्त के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन द्वारा आवेदन किया जा सकता है।
  5. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का ऑफलाइन आवेदन करने के लिए किसान अपने ग्राम पंचायत या फिर नज़दीकी सीएससी सेंटर से फॉर्म प्राप्त कर सकते है| इसके बाद किसान अपने जरुरी डाक्यूमेंट्स के साथ इस इस फॉर्म को भर कर ग्राम पंचायत में जमा करा सकते है।
  6. किसानों को इस योजना का लाभ लेने के लिए कृषि विभाग में रजिस्ट्रेशन करवाना होता है, साथ ही जरुरी डाक्यूमेंट्स जैसे रेवेन्यू रिकॉर्ड, बैंक अकाउंट नंबर, मोबाइल नंबर और आधार नंबर देना पड़ता है ।
  7. इस योजना में अगर आवेदन को लेकर अगर कोई कन्फ्यूजन हो तो किसान अपने लेखपाल से संपर्क कर सकते हैं। लेखपाल ही यह सत्यापित करता है कि आप किसान हैं।
  8. इस योजना की जानकारी तथा इससे जुड़ी समस्या के निवारण के लिए, किसान सोमवार से लेकर शुक्रवार तक पीएम-किसान हेल्प डेस्क (PM-KISAN Help Desk) के ई-मेल Email (pmkisan-ict@gov.in) तथा फोन नंबर 011-23381092 (Direct HelpLine) पर भी संपर्क कर सकते हैं।
  9. योजना के ऑनलाइन आवेदन करते समय किसान के पास अपना आधार कार्ड नंबर, मतदाता पहचान पत्र और बैंक खाता संख्या पास होना जरूरी है साथ ही खेत की जानकारी जैसे- खेत का आकार, कितनी जमीन है आदि की जानकारी भी देनी पड़ती है। इसके अलावा अगर किसान एससी/एसटी केटेगरी से आता है तो उसके लिए उसे सर्टिफिकेट देना होगा।
  10. आवेदन करने के बाद प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना द्वारा लाभान्वित किसानो के नाम का लिस्ट ग्राम पंचायत में लगाया जाता है इसके साथ ही जिन किसानों को योजना का लाभ मिलना है उनके मोबाइल पर भी एसएमएस भेजा जाता है।
  11. सरकारी नौकरी करने वाले कर्मचारियों (चतुर्थ श्रेणी/समूह डी कर्मचारियों को छोड़कर) एवं 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को इसका लाभ नहीं मिलेगा। इसके साथ ही डॉक्टर, वकील जैसे अन्य पेशेवर, अगर खेती करते हैं तो वे भी लाभ के लिए योग्य नहीं हैं। इसके आलावा इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने वाले लोग भी इसका लाभ नहीं उठा सकते हैं।
  12. केंद्र सरकार द्वारा किसान सम्मान योजना के लिए आधिकारिक वेबसाइट की शुरुआत की गयी है –http://pmkisan.nic.in/Home.aspx केंद्र सरकार राज्य सरकार द्वारा इस साइट पर अपलोड किये गए किसानो के डाटा के आधार पर लाभार्थी किसानो की लिस्ट जारी करेगी।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत लाभार्थी किसानो की सूची देखने के लिए :-

  1. सर्वप्रथम किसान सम्मान निधि योजना की अधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाइये।
  2. इसके बाद इस साइट के होम पेज पर ‘एलजी डायरेक्टरी’ के बटन पर क्लिक करे। इस बटन पर क्लिक करने के बाद एक नया वेब पेज खुलेगा जिसमे आपको दो विकल्प दिखेंगे, रूरल (ग्रामीण) और अर्बन (शहरी)।अपने सम्बंधित क्षेत्र के अनुसार इसे सेलेक्ट करे, साथ ही इसके सामने ” Get Data” वाले बटन पर क्लिक करे।
  3. इसके बाद ग्रामीण क्षेत्र के लिए राज्य, जिला , तहसील तथा गाँव का नाम सेलेक्ट करे और शहरी क्षेत्र के लिए राज्य, जिला, तथा वार्ड नंबर सेलेक्ट करे।
  4. सभी जानकारी भरने के बाद निचे सबमिट को क्लिक करे । इसके बाद लाभार्थी किसानो की सूची डिस्प्ले हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.